बांसवाड़ा : भोपों ने अंधविश्वास का लाभ उठाकर की घटिया हरकतें, विरोध पर डायन कहकर बीमार युवती का जलाया

  |   Banswaranews

बांसवाड़ा. जिले के आनंदपुरी थाना इलाके में एक बीमार युवती के इलाज के नाम पर तीन भोपों ने हद कर दी। अंधविश्वास के चलते पहुंची युवती पर भोपों ने डायन का साया बताया और अश्लील हरकतें की। युवती ने विरोध किया, तो उसका हाथ हवन कुण्ड के अंगारों पर रख दिय। विवाहिता की चीखें सुनकर परिजन दौड़ेऔर उसे बचाकर अस्पताल ले गए। मामले की रिपोर्ट पर पुलिस ने युवती का मेडिकल कराया। इसके उपरांत नामजद कराए गए आरोपियों को हिरासत में लिया। पुलिस के अनुसार के घनेवा बड़ा गांव में हुए वाकये की जानकारी सोमवार को आनंदपुरी थाने तक पहुंची। इस पर घनेवा बड़ा निवासी सुभाष पुत्र पूंजी ताबियार, भावजी ताबियार पुत्र हवजी एवं लक्ष्मण पुत्र पूंजी ताबियार के खिलाफ प्रकरण दर्ज किया है। पुलिस में दर्ज रिपोर्ट के मुताबिक आरोपियों ने पहले हवनकुण्ड में अग्नि प्रज्जवलित की। इसके बाद कांकरा जलाए और फिर उसके धुएं से युवती को झाड़ा लगाने लगे। फिर भोपे युवती के साथ अश्लील तरीके से छेड़छाड़ करने लग गए। युवती ने जब रोकने का प्रयास किया तो वे कहने लगे तू डायन है। इसके बाद युवती को नीचे पटक दिया। युवती चिल्लाने लगी तो उसका हाथ हवनकुण्ड में अंगारों पर रख दिया। तब चीख सुनकर बाहर बैठे परिजन दौडकऱ भीतर पहुंचे जहां बेटी बेसुध अवस्था में पड़ी हुई थी। परिवार के सदस्यों ने उसे को संभाला।इसलिए गए भोपे के पासपुलिस के अनुसार आनंदपुरी थाना इलाके के एक गांव की करीब 23 वर्षीय युवती की शादी कुछ माह माह पूर्व इलाके में ही हुई थी, लेकिन वह बीमार रहने लगी। इस पर युवती और उसकी 58 वर्षीय मां गत शुक्रवार को घनेवाबड़ा गांव में भोपे के पास गई। भोपे ने दोनों मां-बेटी को रविवार रात आने के लिए कहा। परिजनों को बाहर बैठाकर किया कुकृत्य इस पर मां-बेटी सहित परिवार के पांच सदस्य रविवार की रात घनेवाबड़ा पहुंचे। वहां कुटिया में घणेवाबड़ा निवासी सुभाष पुत्र पूंजी ताबियार के साथ भावजी ताबियार पुत्र हवजी एवं लक्ष्मण पुत्र पूंजी ताबियार बैठे हुए थे। आरोपियों ने पहले सभी सदस्यों को कुटिया के बाहर बैठा दिया। इसके बाद 23 वर्षीय बेटी को भीतर लेकर चले गए और तब उसके साथ अमानवीय कृत्य कर डाला।पहले भी कई बार हुए भोपों के अत्याचार भोपों के उपचार के नाम पर अत्याचार और डायन बताकर यातनाएं देने के मामले जिले में कई सामने आए हैं। पूर्व में खमेरा में भी इस तरह का मामला सामने आया था, जहां भोपा ने महिला को जगह-जगह से दागने के साथ उसकी गर्म सांकल से मारपीट की। बाद में पुलिस ने आरोपियों को दबोच लिया। महिलाओं को डायन के नाम पर प्रताडि़त करने के खमेरा, कलिंजरा, कुशलगढ़ थानों में पूर्व में कई मामले सामने आ चुके हैं। उपचार के नाम पर दागने की कई घटनाएं हुई। महिलाओं को डायन के नाम पर बेहरमी के साथ पिटाई की वारदातें हुई।

फोटो - http://v.duta.us/I23WBwAA

यहां पढें पूरी खबर- - http://v.duta.us/RKb94gAA

📲 Get Banswara News on Whatsapp 💬