राजस्थान में डेढ़ हजार से ज्यादा मजदूरों की सिलिकोसिस से मौत, सरकार और प्रशासन से नहीं मिल पाई पर्याप्त मदद

  |   Banswaranews

बांसवाड़ा. गरीबी, भूख के थपेड़ों से लड़ते लड़ते लाइलाज बीमारी सिलिकोसिस की गिरफ्त में आ गए फिर मौत ने आ घेरा । हजारों मजदूर हैं जो पेट की आग बुझाने के लिए पत्थर की खानों और पत्थर धिसाई का काम करते हुए इस बीमारी की चपेट में आए। ये लोग वक्त के आगे बेबस हैं, लेकिन प्रशासन और सरकार से भी मदद नहीं मिल रही है। कहने को तो योजनाएं बनी और वादे भी किए, लेकिन हकीकत के धरातल पर तस्वीर मायूस करने वाली ही है। सिलिकोसिस के शिकार मरीजों में से महज 24 फीसदी को ही आर्थिक मदद मिल पार्ई। प्रदेश में महज पांच वर्षों में 18 हजार 133 लोग इस बीमारी की चपेट में आ गए और इस अवधि में 1857 मजदूर मौत की आगोश में चले गए। सरकारी आंकड़ों की मानेंं तो वर्ष 2013 से 2019 के बीच सिलिकोसिस से पीडि़त 18133 मजदूर सामने आए, जिनमें 4341 को आर्थिक मदद मिली। यानी 23.93 फीसदी मजदूर ही मदद पा सके।...

फोटो - http://v.duta.us/YLqsUwAA

यहां पढें पूरी खबर- - http://v.duta.us/zPAt_QAA

📲 Get Banswara News on Whatsapp 💬