खाकी से तो बच जाओगे, लेकिन मौत से कहां भागोगे

  |   Nagaurnews

मौलासर. सडक़ हादसों में हजारों बेशकीमती जान चली जाती है और असंख्य लोग ताउम्र विकलांग होकर जीवन व्यतीत करने को विवश हो जाते हैं। कारण है कि वाहन चालकों द्वारा यातायात नियमों को गंभीरता से न लेना। सिर्फ गंतव्य की ओर बढऩे की दौड़ के बीच हर रोज हादसे होते हैं। वर्तमान समय में शहरों एवं कस्बों की सडक़ों पर नाबालिग भी फर्राटे से दोपहिया व चौपहिया वाहन दौड़ा रहे हैं। इन बच्चों की मानसिकता ऐसी होती है कि अगर उनकी एक तरफ से कोई वाहन चालक आगे निकल गया तो खुद को छोटा समझने लगते हैं और फिर लगाते हैं दौड़ और आखिर वही दौड़ हादसे का कारण बनती है। यह बात हैड कांस्टेबल गोपालराम ने कस्बे के डाबड़ा गांव स्थित सरकारी स्कूल में सडक़ सुरक्षा सप्ताह के तहत आयोजित कार्यक्रम में कहीं।...

फोटो - http://v.duta.us/6NAvrAAA

यहां पढें पूरी खबर- - http://v.duta.us/el2scwAA

📲 Get Nagaur News on Whatsapp 💬