गहना घर लूटकांड : ओरमांझी में ही पकड़े जा सकते थे सभी अपराधी

  |   Ranchinews

रांची : लालपुर के अमरावती कॉम्प्लेक्स स्थित गहना घर ज्वेलर्स के व्यवसायी बंधु रोहित खिरवाल और राहुल खिरवाल को सोमवार को अपराधियों ने गोली मारकर जख्मी कर दिया था. इसके बाद वे हथियार लहराते आराम से 208 किमी की दूरी तय कर बिहार के डोभी (गया) में प्रवेश कर गये.

लेकिन, वारदात में शामिल पांच में से किसी अपराधी को नहीं पकड़ा जा सका. इस पूरे मामले में कंट्रोल रूम के अलावा रांची पुलिस के एक बड़े अफसर सहित कुछ कनीय अफसरों की लापरवाही सामने आ रही है.

रांची रेंज के आइजी नवीन कुमार सिंह के निर्देश पर ट्रैफिक एसपी अजीत पीटर डुंगडुंग ने इस मामले की जांच की है. इसमें पता चला है कि घटना के तुरंत बाद कचहरी चौक स्थित पुलिस कंट्रोल रूम ने सड़कों पर लगे सीसीटीवी कैमरों के फुटेज की जांच शुरू कर दी थी. उस दौरान कंट्रोल रूम को पता चल गया कि वारदात में शामिल अपराधी ओरमांझी की ओर भाग रहे हैं. कंट्रोल रूम को अपराधियों के रूट का पता चलने और अपराधियों का ओरमांझी थाना क्रॉस करने के बीच 15 मिनट का समय पुलिस के पास था....

फोटो - http://v.duta.us/2lkQeQAA

यहां पढें पूरी खबर- - http://v.duta.us/oP5l4gAA

📲 Get Ranchi News on Whatsapp 💬