घाघरा नदी के रामबाग घाट पर नाव

  |   Sant-Kabir-Nagarnews

कम्हरिया घाट पर मिली घाघरा में डूबी रूमा की लाश

घटना स्थल से 15 किलोमीटर की दूरी पर मिली लाश, पीड़ित के घर मचा कोहराम

धनघटा। घाघरा नदी के रामबाग घाट पर नाव डूबने से लापता हुई रूमा की लाश बुधवार की सुबह गोरखपुर जिले के कम्हरिया घाट पर पीएसी के जवानों ने ढूंढ निकाली। जैसे ही रूमा की लाश मिलने की सूचना गांव में पहुंची, वैसे ही कोहराम मच गया। पीड़ित परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल था।

शनिवार को रामबाग घाट पर घाघरा नदी में डोंगी नाव डूब गई थी। नाव पर सवार 18 लोगों में से 14 लोग तो तैर कर अपनी जान बचा लिए थे, लेकिन चपरापूर्वी व बालमपुर गांव निवासी सगी बहन रूमा, कविता पुत्री रामनयन, माया पुत्री नंदलाल तथा रेखा पुत्री हरिवंश नदी में लापता हो गई थीं। घटना के दिन पहुंची एनडीआरएफ व एसडीआरएफ तथा पीएसी की संयुक्त टीम नदी में डूबी महिलाओं की तलाश शुरू की। रविवार को सबसे पहले कविता की लाश घटनास्थल से करीब आठ किलोमीटर की दूरी पर दौलतपुर गांव के पास नदी में मिली। जबकि सोमवार को भिखारीपुर गांव के करीब से रेखा व माया का शव बरामद हुआ। मंगलवार को पीएसी के जवान तलाश करते रहे, लेकिन रूमा का शव नहीं मिल सका। बुधवार की सुबह घटना स्थल से करीब 15 किलो मीटर पूरब गोरखपुर जिले की सीमा में कम्हरिया घाट के पास से डूबी रूमा के शव को पीएसी के जवानों ने बरामद किया। रूमा की लाश मिलने की सूचना पर परिवार में कोहराम मच गया। पुलिस ने लाश को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। एसओ रणधीर मिश्र ने बताया कि नदी में चार महिलाएं लापता हुई थीं। जिनके शव बरामद कर लिए गए हैं। चौथे शव को भी पोस्टमार्टम कराया गया।...

फोटो - http://v.duta.us/LCRohQAA

यहां पढें पूरी खबर- - http://v.duta.us/rrqKDAAA

📲 Get Sant Kabir Nagar News on Whatsapp 💬