झाबुआ उपचुनाव: फैसला ही बताएंगा कि कितना कारगर रहा भाजपा का माइक्रो मैनेजमेंट

  |   Indorenews

इंदौर । दो दिन बाद झाबुआ उप चुनाव का प्रचार बंद होने के साथ ही सारे बाहरी नेता क्षेत्र से बाहर हो जाएंगे। पुराने अनुभवों के हिसाब से आखिरी के दो दिन में कांग्रेस मजबूती से उभरकर सामने आ जाती है। इस बार ऐसा नहीं होगा, क्योंकि पार्टी ने माइक्रो मैनेजमेंट पर अमल करना शुरू कर दिया है।

21 अक्टूबर को झाबुआ विधानसभा में उप चुनाव होने जा रहा है। भाजपा और कांग्रेस के तमाम दिग्गज नेताओं ने क्षेत्र में डेरा डाल रखा है। देखा जाए तो बड़ी तादाद भाजपाइयों की है। चुनाव को लेकर प्रदेश अध्यक्ष राकेशसिंह खासी दिलचस्पी ले रहे हैं।...

फोटो - http://v.duta.us/UlfPjwAA

यहां पढें पूरी खबर- - http://v.duta.us/jxh5DAAA

📲 Get Indore News on Whatsapp 💬