झारखंड के पर्यटन स्थलों का प्रचार-प्रसार करने की है जरूरत : राज्यपाल

  |   Bokaronews

बाबा ने महोत्सव को पितृपक्ष में नहीं होने दिया, देवकाल में हुआ : अमर बाउरी

बोकारो/चंदनकियारी : चंदनकियारी के पोलिकरी में बुधवार से दो दिवसीय भैरव महोत्सव-2019 शुरू हुआ. उद्घाटन मुख्य अतिथि राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू ने किया. उन्होंने कहा कि भैरव मंदिर चौथी सदी से यहां स्थापित है. झारखंड कला संस्कृति से परिपूर्ण राज्य है. यहां के मंदिर, प्राकृतिक सौंदर्य, कला संस्कृति अन्य राज्यों से भिन्न है. यहां के पर्यटन स्थलों का प्रचार-प्रसार करने की जरूरत है. सरकार राज्य के पर्यटन स्थलों को विकसित कर रही है, आगे भी यह काम होता रहेगा.

राज्यपाल ने कहा कि चंदनकियारी यानी चंदन की बगिया. शायद यह क्षेत्र किसी समय चंदन के पेड़ों से भरा रहा होगा. यहां के लोगों का स्वभाव भी चंदन की तरह ही निर्मल है. यहां आकर खुशी महसूस हो रही है. इससे पहले राज्यपाल हेलीकॉप्टर से कार्यक्रम स्थल पहुंचीं. सबसे पहले उन्हें गार्ड ऑफ ऑनर दिया गया. उसके बाद वह सीधा भैरव मंदिर पहुंचीं और आशीर्वाद लिया. उन्होंने यहां सदियों से बह रहे कुंड को भी देखा....

यहां पढें पूरी खबर- - http://v.duta.us/vTC4ugAA

📲 Get Bokaro News on Whatsapp 💬