टेस्ट में नंबर कम आने की वजह मानसिक तौर पर परेशान था छात्रा

  |   Rohtaknews

रोहतक। सोनीपत रोड स्थित निजी गर्ल्स हॉस्टल की तीसरी मंजिल की छत से छलांग लगाने वाली छात्रा की बुधवार सुबह को निजी अस्पताल में मौत हो गई। पुलिस के अनुसार छात्रा निजी इंस्टीट्यूट से नीट की तैयारी कर रही थी। टेस्ट में नंबर कम आने से परेशान होकर छात्रा होकर छात्रा ने यह कदम उठाया। वहीं अर्बन एस्टेट थाना पुलिस ने परिजनों के बयानों पर धारा 174 के तहत कार्रवाई करते हुए पोस्टमार्टम करवा कर शव परिजनों का सौंप दिया।

गोहाना की रहने वाली 19 वर्षीय छात्रा छह माह से शहर के एक निजी इंस्टीट्यूट से नीट की तैयारी कर रही थी। पुलिस को दिए बयान में पिता ने बताया कि छह माह में उसकी बेटी ने दो बार टेस्ट दिए। दोनों ही बार उसके नंबर कम आए थे। शनिवार को एक और टेस्ट हुआ था, जिसकी सोमवार को आंसर की आई थी। उसके हिसाब से भी उसके नंबर कम थे। बेटी ने घर पर फोन कर इस बारे में बताया, तो पिता ने उसे अच्छे से तैयारी करने की बात कही थी। इसके बाद मंगलवार रात को वह हॉस्टल में खाना खाना के बाद छत पर चली गई और वहां जाकर करीब 50 फीट से नीचे छलांग लगा ली। नीचे गिरने पर रक्त रिसाव नहीं हुआ और सिर के अंदर खून का थक्का जम गया। उसे इलाज के लिए पीजीआई ले जाया गया, जहां प्राथमिक उपचार देने के बाद परिजनों ने उसे एक निजी अस्पताल में भर्ती करवाया। यहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। छात्रा के परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है।...

यहां पढें पूरी खबर- - http://v.duta.us/cCc3_wAA

📲 Get Rohtak News on Whatsapp 💬