नौगांव पीडब्ल्यूडी उपसंभाग में भर्राशाही,नहीं होती मरम्मत

  |   Chhatarpurnews

नौगांव. 132 चौराहों वाले इस छोटे से नगर को ब्रिटिश हुकूमत ने बसाया था जिसकी चौड़ी सड़कें और खास बनावट इस नगर को खूबसूरती देती थी लेकिन अब नौगांव की वही सड़कें बदहाल हो गई हैं। नौगांव सहित हरपालपुर और महाराजपुर में सड़कों की यही दुर्दशा है और इस दुर्दशा के पीछे नौगांव पीडब्ल्यूडी उपसंभाग कार्यालय है जिसमें सड़क मरम्मत के लिए ही हर महीने लगभग 12 लाख रुपए मरम्मत मजदूरों पर खर्च होते हैं इसके बाद भी पूरे क्षेत्र की सड़कें टूटी पड़ी हैं।

जानकारी के मुताबिक नौगांव उपसंभाग में गैंगमेन के रूप में 128 मरम्मत कामगारों को लगाया गया है। इन कामगारों में से 28 सिर्फ नौगांव शहर के लिए हैं। विभाग हर महीने लगभग 11 से 12 लाख रुपए इन मरम्मत कामगारों पर खर्च करता है। इसके बावजूद सड़कें दर्दुशा की शिकार हैं। दरअसल विभाग के अफसर इन्हीं कामगारों के नाम पर भ्रष्टाचार का असली खेल खेल रहे हैं। विभागीय सूत्रों के मुताबिक इतने कामगारों में से 50 प्रतिशत कामगार तो सिर्फ कागजों में दर्ज है और इनके नाम पर मानदेय भी निकलता है लेकिन ये लोग कभी काम करने नहीं आते। 25 प्रतिशत कामगारों को आला अधिकारियों के बंगलों की अर्दली में लगाया गया है। जिन सड़कों के लिए इन मरम्मत कामगारों को लगाया है उन सड़कों पर 25 प्रतिशत कामगार भी काम नहीं करते। कुछ कामगारों ने तो कैमरे पर भी खुलकर बोला कि वे सिर्फ मानदेय लेने आते हैं।...

फोटो - http://v.duta.us/SHUlyAAA

यहां पढें पूरी खबर- - http://v.duta.us/NHCTDAAA

📲 Get Chhatarpur News on Whatsapp 💬