पटाखों के अवैध भंडार पर कार्रवाई नहीं, हो सकता है बड़ा हादसा

  |   Mirzapurnews

मिर्जापुर। जिलाधिकारी के निर्देश पर जिले के 29 पटाखा लाइसेंस धारकों का लाइसेंस नवीनकरण न कर नोटिस दे दी गई है, पर प्रशासन इन लाइसेंस धारको के अवैध भंडार पर कोई कार्रवाई नहीं कर रहा है। नगर के त्रिमोहानी, बसनही बाजार, पक्केघाट, धुंधीकटरा, छोटा मिर्जापुर मोहल्ले में गोदामों में अवैध पटाखा रखा हुआ है। यहीं लोग दीपावली नजदीक आने पर तीन दिन के मिलने वाले लाइसेंस में इन पटाखों को खपाएंगे। इसके बाद भी प्रशासन इन अवैध पटाखा गोदामों पर कार्रवाई नहीं कर रहा है। इससे हादसे की आशंका बनी हुई है।

जिले में 29 लोगों को पटाखा बेचने और तीन लोगों को पटाखा बनाने का लाइसेंस था। इसमें पटाखा बनाने वालों ने नियम का पालन करते हुए घनी आबादी के बाहर गोदाम बनाया। इसलिए उनके लाइसेंस का नवीनीकरण किया गया। सभी पटाखा लाइसेंस धारकों को एक वर्ष पूर्व अपने गोदाम आदि को घनी आबादी के बाहर करने का निर्देश दिया गया था। इसके बाद भी इस वर्ष लाइसेंस धारक अपना गोदाम बाहर नहीं ले जा सके। इस कारण डीएम के निर्देश पर 29 लाइसेंस धारकों का लाइसेंस नवीनीकरण नहीं किया गया। इसके बाद भी पटाखा व्यवसायी नगर के मध्य घनी आबादी में गोदाम बनाए हुए है। प्रशासन ने लाइेंसस निरस्तीकरण करके इतिश्री कर लिया। दीपावली का पर्व नजदीक आने पर प्रशासन इन्हीं दुकानदारों को तीन दिन का अस्थाई लाइसेंस देता है। इसके बाद भी ये दुकानदार तय स्थान पर दुकान न लगाकर बाजार में दुकान लगाते है। देखना होगा कि लाइसेंस निरस्तीकरण के बाद प्रशासन पटाखा व्यवसायियों के अवैध गोदामों पर कार्रवाई करते है। या फिर बड़े हादसे का इंजजार करेंगे।

यहां पढें पूरी खबर- - http://v.duta.us/1C8SFwIA

📲 Get Mirzapur News on Whatsapp 💬