पति के बाद अब पत्नी को भी शैलेश मटियानी पुरस्कार

  |   Bageshwarnews

बागेश्वर/गरुड़। जिले की दो शिक्षिकाओं को शैलेश मटियानी पुरस्कार के लिए चुना गया है। इनमें जीजीआईसी बागेश्वर की प्रधानाचार्या शोभा और प्राथमिक विद्यालय पिंगलों गरुड़ की शिक्षिका नीता अल्मिया शामिल हैं। नीता के पति भी पूर्व में शैलेश मटियानी पुरस्कार से सम्मानित हो चुके हैं।

राजकीय आदर्श प्राथमिक विद्यालय पिगलों की प्रधानाध्यापिका नीता अल्मिया 2016 में गवर्नर्स शिक्षक अवार्ड से सम्मानित हो चुकी हैं। वह मूलरूप से गरुड़ के नौघर गांव की निवासी हैं। 2015 में उनकी ज्वाइनिंग के समय प्राथमिक विद्यालय पिंगलों में 39 बच्चे थे, अब यह संख्या 109 पहुंच गई है।

हर वर्ष वह अपने वेतन का एक हिस्सा गरीब और अनाथ बच्चों की शिक्षा पर खर्च करती हैं। अल्मिया ने बताया कि वह हर रोज 12 घंटे प्राथमिक शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए काम करती है। उनके पति इंटर कालेज गागरीगोल में प्रधानाचार्य नंदन सिंह अल्मिया को भी शैलेश मटियानी पुरस्कार मिल चुका है।...

फोटो - http://v.duta.us/uLaj_QAA

यहां पढें पूरी खबर- - http://v.duta.us/WY9SkgAA

📲 Get Bageshwar News on Whatsapp 💬