पंद्रह दिन में मजदूरों को बहाल नहीं किया तो होगा उग्र आंदोलन

  |   Bilaspurnews

स्वारघाट(बिलासपुर)। टाईडल लैबोरेट्री कंपनी ग्वालथाई प्रबंधन के ठेकेदार की ओर से 25 मजदूरों को हटाया गया है। इस कारण इन मजदूरों को भारी आर्थिक तंगहाली से गुजरना पड़ रहा है। वहीं कंपनी से हटाए गए मजदूरों और यूनियन ने 15 दिनों का समय दिया है, अगर इस अवधि में काम से हटाए गए लोगों को काम पर नहीं रखा गया तो यूनियन और मजदूर मिल कर कंपनी गेट पर धरना प्रदर्शन करेंगे। उल्लेखनीय है कि 11 अक्तूबर को कंपनी ने 25 मजदूरों को काम से हटा दिया था।

टाईडल लैबोरेट्री कंपनी के मजदूर यूनियन के प्रधान विक्रम सिंह ने बताया कि मजदूरों को ईपीएफ, ईएसआई व न्यूनतम मजदूरी, एरियर व बोनस की सुविधा नहीं दी जा रही है। अगर मजदूरों ने अपने हक के लिए कोई भी मांग कंपनी के समक्ष रखी है तो उन्हें अपनी नौकरी से हाथ धोना पड़ता है। इसका खामियाजा इन 25 मजदूरों को भी भुगतना पड़ा है।...

यहां पढें पूरी खबर- - http://v.duta.us/IS0VyAAA

📲 Get Bilaspur News on Whatsapp 💬