बैंक हड़ताल के विरोध में ग्रामीणों ने किया प्रदर्शन

  |   Nagaurnews

चितावा. कस्बे के समीप ग्राम अडक़सर में राजस्थान मरूधरा ग्रामीण बैंक में हड़ताल के कारण ग्रामीणों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। बैंक में चार अक्टूबर से विभिन्न मांगों को लेकर कर्मचारी हड़ताल पर है। बैंक बन्द रहने से खाताधारकों को बैक सम्बन्धी लेन-देन के लिए परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। बुधवार को बैंक के सामने सरपंच हरदयाल सिंह मुण्ड के नेतृत्व में भंवर लाल, भारमल बावरी, नेमी चन्द शर्मा, छोटु राम, रामदेवा राम, जगदीश सहित बड़ी संख्या में ग्रामीणों ने विरोध प्रकट कर आक्रोश जताया। सरपंच हरदयाल सिंह मुण्ड ने बताया कि बैंक कर्मचारियों की हड़ताल के कारण बैंक बन्द होने के कारण त्यौहार के सीजन में ग्रामीणों को रुपए के लिए परेशान होना पड़ रहा है। बैंक कर्मचारियों की हड़ताल का खामियाजा आमजन को भुगतना पड़ रहा है। हड़ताल के चलते वृद्धजनों, महिलाओं को पेंशन नहीं मिल पा रही है। अडक़सर में राजस्थान मरूधरा ग्रामीण बैंक में आस पास के गांवों के लोंगो रूपये प्राप्त करने आते है। बैंक कम््रचारियों की अनिश्चितकालीन हड़ताल के कारण ग्रामीण परेशान है। सरपंच हरदयाल सिंह मुण्ड ने बताया कि एक दो दिन में हड़ताल समाप्त नहीं हुई तो ग्रामीणों के साथ बैंक के मुख्य गेट के सामने धरना देंगे। बैंक के शाखा प्रबन्धक जगदीश प्रसाद गौड़ ने बताया कि बैंक की दमनकारी नीतियां, स्टाफ पर दबाव डालकर गलत तरीकों से ग्राहक का बीमा करवाने, बैंक में जनता के हितों के विरुद्ध जाकर एसबीआई के कॉर्पोरेट ऑफिस के निर्देशों से ग्रामीण जनता को अपनी मूलभूत बैंकिंग सेवाएं देने के बजाय बीमा म्यूचल फंड जैसे प्रोडक्ट्स जबरदस्ती तथा बिना सहमति बेचने के विरुद्ध में कर्मचारी अनिश्चितकालीन हड़ताल पर हैं।...

फोटो - http://v.duta.us/jBdy2gAA

यहां पढें पूरी खबर- - http://v.duta.us/7xWS-gAA

📲 Get Nagaur News on Whatsapp 💬