मथुरा के इस कस्बे में आज भी है सती के 'श्राप' का खौफ, नहीं मनाई जाती करवाचौथ

  |   Uttar-Pradeshnews

मथुरा. आज पूरे देश मे सुहागिन महिलाएं करवाचौथ बड़े ही धूमधाम से मना रही है. गुरुवार को करवाचौथ (Karwa Chauth 2019) का चांद (Moon) तो पूरे जोश के साथ आसमान पर चमकेगा, मगर सामाजिक रूढ़िवादिता के बंधन में बंधी 'चांदनी' पर मथुरा के सुरीर कस्बे में मायूसी छाई रहेगी. कान्हा की नगरी के कस्बा सुरीर में सुहाग सलामती के त्योहार से परहेज की रूढ़िवादी परंपरा सैकड़ों वर्षों से चली आ रही है. यहां कि महिलाओं पर सती के श्राप (Curse) का भय इस कदर मन-मस्तिष्क पर छाया हुआ है कि अपने सुहाग सलामती के त्योहार को भी नहीं मनाती. कस्बा सुरीर के मुहल्ला वघा में ठाकुर समाज के सैकड़ों परिवारों में करवा चौथ एवं अहोई अष्ठमी का त्यौहार मनाने पर बंदिश लगी हुई है....

फोटो - http://v.duta.us/wJJMGwAA

यहां पढें पूरी खबर- - http://v.duta.us/TtHVYAAA

📲 Get UttarPradesh News on Whatsapp 💬