रासायनिक खाद से बीमार हो गई खेतों की मिट्टी

  |   Etawahnews

इटावा। रासायनिक खाद के जरूरत से ज्यादा उपयोग करने से जिले के खेतों की मिट्टी बीमार हो चुकी है। मिट्टी में उपजाऊ बनाने वाले तत्वों नाइट्रोजन और फास्फेट की मात्रा न्यूनतम स्तर पर पहुंच गई है। अगर रासायनिक खादों का इसी तरह अंधाधुंध इस्तेमाल होता रहा तो 15 से 20 साल में खेत बंजर हो जाएंगे।

खेतों की मिट्टी में उपजाऊ तत्वों की जांच के लिए कृषि विभाग की परीक्षण प्रयोगशाला में खेतों की मिट्टी की जांच की जाती है।

वर्ष 2018-19 में अभियान चलाकर हर गांव से खेत की मिट्टी के नमूने लिए गए थे। इसमें 3400 किसानों को मृदा कार्ड दिए गए थे। किसानों को उनके खेत की मिट्टी में क्या-क्या तत्व कम हैं और कितनी व कौन से खाद डालनी चाहिए इसकी जानकारी दी गई थी।...

यहां पढें पूरी खबर- - http://v.duta.us/twZSEQAA

📲 Get Etawah News on Whatsapp 💬