लेट हुई सरसों की बोवनी, घटा रकबा

  |   Bhindnews

भिण्ड. बेमौसम आवश्यकता से अधिक बरसात हो जाने से सरसों की फसल 15-20 दिन तक लेट हो जाने से किसान को पैदावार प्रभावित होने की चिंता सता रही है। क्योंकि लेट होने के कारण फसल में क ीटों के प्रकोप की भी आशंका बढ़ गई है। यहीं नहीं अब 20 फीसदी तक सरसों का रकबा इस साल कम होने की संभावना है।

ऐसे में कृषि विभाग के अधिकारी कम समय में 'यादा उत्पादन देने वाली उन्नति किस्में बोने की सलाह दे रहे हैं।

भिण्ड जिले में आम तौर पर सरसों की बोवनी 15 सितंबर से होनी शुरू हो जाती है। 30 सितंबर तक अधिकांश किसान बोवनी कर लेते हैं। गत साल भी 16 अक्टूबर तक 90 फीसदी से अधिक किसान सरसो की बोवनी का काम पूरा कर चुके थे। इस बार हालात उलट हैं अभी तक सिर्फ 10 से 15 फीसदी रकवे में ही बोअनी हो पाई है। समय पर बोवनी हो जाने पर फरवरी के अंतिम सप्ताह सरसों की कटाई शुरू हो जाती थी लेकिन इस बार लेट हो जाने के कारण कटाई 20 मार्च तक शुरू होगी।...

फोटो - http://v.duta.us/BdwKFwAA

यहां पढें पूरी खबर- - http://v.duta.us/KiEHPQAA

📲 Get Bhind News on Whatsapp 💬