सूजा घोंपकर की गई थी दिलेराम की हत्या

  |   Pilibhitnews

पूरनपुर (पीलीभीत)। दिलेराम उर्फ रामदयाल की सितंबर में गोली मारकर हत्या की गई थी। उसके साथियों पर बंदूक से फायर कर घायल किया गया था। पुलिस घटना का खुलासा कर नामजद तीनों हत्यारोपियों को गिरफ्तार कर लिया। हत्या में प्रयुक्त सूजा भी बरामद कर लिया गया।

गांव पताबोझी निवासी दिलेराम उर्फ रामदयाल का शव सात सितंबर को हरीपुर जंगल में खाई में मिला था। उसकी साइकिल नजदीक खड़ी थी। वन दरोगा नंदराम की सूचना पर पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम कराया था। घटना के बाद से ही दिलेराम के परिवार वाले वनकर्मियों पर हत्या करने का आरोप लगा रहे थे। दिलेराम की पोस्टमार्टम रिपोर्ट में सिर में आई चोट से मौत होना स्पष्ट हुआ था। दिलेराम के साथी गांव निवासी लीलधर और कालीचरन फायर लगने से घायल हुए थे। अगले दिन दोनों घायलों ने सीएचसी पहुंचकर अपना मेडिकल करवाया था। घटना के तीन दिन बाद दिलेराम की पत्नी सुशीला देवी ने पुलिस को तहरीर देकर गांव टांडा छत्रपति निवासी ज्वाला प्रसाद, देशराज और गांव गुलड़िया खास निवासी रंजीत पर पति की हत्या करने का आरोप लगाया था। पुलिस ने ज्वाला प्रसाद, रंजीत, देशराज के खिलाफ जाति सूचक शब्दों का प्रयोग कर गाली-गलौज कर हत्या करने की रिपोर्ट दर्ज की गई थी। घटना की विवेचना सीओ कमल सिंह कर रहे हैं। सीओ ने बताया कि घटना की रात को जंगल में दोनों पक्षों में मुंह पर टार्च की रोशनी डालने को विवाद हुआ था। इसमें दोनों ओर से फायरिंग हुई। फायर लगने से दिलेराम के दो साथी घायल हुए। आरोपियों ने दिलेराम को पकड़ लिया। उसकी सूजा घोंपकर हत्या कर दी। उन्होंने बताया कि तीनों नामजद आरोपियों को गिरफ्तार कर हत्या में प्रयुक्त सूजा बरामद कर लिया गया। आरोपियों ने तमंचा को कहीं फेंक दिया।

यहां पढें पूरी खबर- - http://v.duta.us/cb2_zQAA

📲 Get Pilibhit News on Whatsapp 💬