सोरघाटी में बिखरी सांस्कृतिक छटा

  |   Pithoragarhnews

पिथौरागढ़। सोरघाटी में नगरपालिका की ओर से आयोजित चार दिनी बाल मेले का रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम और पुरस्कार वितरण के साथ समापन हो गया है। मेले में 30 विद्यालयों के करीब 1500 बच्चों ने प्रतिभाग किया।

बुधवार की शाम सांस्कृतिक संध्या का शुभारंभ मुख्य अतिथि डॉ. गुरुकुलानंद सरस्वती, पूर्व पालिकाध्यक्ष प्रेमा सेन, कांग्रेस जिलाध्यक्ष त्रिलोक सिंह महर, रामलीला कमेटी के अध्यक्ष भूपेंद्र सिंह महरा और समाज सेवी प्रकाश जोशी ने किया। डॉ. सरस्वती ने कहा कि बाल मेला पीढ़ियों को संस्कारित करने वाला है। इससे बच्चों के मन में अपनी बोली और भाषा के प्रति अनुराग बढ़ेगा।

पालिकाध्यक्ष राजेंद्र रावत ने कहा कि बाल मेले के सफल आयोजन के लिए सभी का आभार जताया। कहा कि बाल कलाकारों ने अपने अंदर छुपी प्रतिभा का शानदार मंचन किया। लोहाघाट से आए कला दर्पण के कलाकारों ने रुमझुमा जोग्याण, तिले धारु बोला, फ्यूंलड़िया, संस्कार सांस्कृतिक कला मंच अल्मोड़ा ने गोरखा चेली भागुली गीतों से समा बांध दिया। बाल मेले का संचालन स्कूली बच्चों की ओर से किया गया।...

फोटो - http://v.duta.us/9_-MJAAA

यहां पढें पूरी खबर- - http://v.duta.us/CyhVDwAA

📲 Get Pithoragarh News on Whatsapp 💬