हर वार्ड में 5-10 दावेदार आने के बाद राजनीतिक दलों की बढ़ीं मुश्किलें, प्रत्येक दावेदार के बारे में बनेगी रिपोर्ट

  |   Jodhpurnews

अविनाश केविलया/जोधपुर. शहरी सरकार बनाने के लिए राज्य सरकार की ओर से लगातार बदलाव किए जा रहे हैं। निकाय प्रमुख प्रक्रिया फाइनल होने के बाद अब सभी को आरक्षण लॉटरी का इंतजार है। लेकिन स्थानीय स्तर पर पार्षदों के लिए दोनों ही राजनीतिक दलों की मशक्कत बढ़ गई है। अब एक-एक वार्ड से करीब 5 से 10 दावेदार सामने आने लगे हैं। इसी को लेकर लोकल वार्ड 'वॉर' प्लान भी बनाया गया है। टिकट बंटने से पहले कैसे होगा ग्राउंड सर्वे और किन बातों का रखा जाएगा ध्यान इस पर विशेष रिपोट...र्।

प्रदेश स्तर से दोनों ही पार्टियों के लिए प्रभारी व समन्वयक सहित अन्य औपचारिकताएं शुरू हो गई हैं। लेकिन पार्षद प्रत्याशी चुनने के लिए जमीनी हकीकत पता करना जरूरी है। बड़े चुनावों के मुकाबले हार-जीत का अंतर चंद वोटों का होने के कारण जिस व्यक्ति के पक्ष में अधिक लोग होंगे उसको ही टिकट जाए इसके लिए कांग्रेस और भाजपा का ग्राउंड सर्वे शुरू हो चुका है।...

फोटो - http://v.duta.us/V8quZQAA

यहां पढें पूरी खबर- - http://v.duta.us/nayvpwAA

📲 Get Jodhpur News on Whatsapp 💬