Karva Chauth : हाइटेक हुआ करवा चौथ, इंटरनेट का सहारा

  |   Ajmernews

अजमेर. भारतीय महिला के लिए करवा चौथ का पर्व अलग ही महत्व रखता है। सदियों से हर सुहागिन को इस पर्व की प्रतीक्षा रहती है। भारतीय संस्कृति में पति की दीर्घायु, स्मृद्धि, कुशलता,अगाढ़ प्रेम और रिश्ते की मजबूती के लिए पत्नी व्रत और पूजा के जरिए कामनाएं करती है। करवा चौथ का पर्व अब भारत देश की सीमाओं को लांघकर सात समंदर पार भी पहुंच गया है। विदेशों में लाखों प्रवासी भारतीय परिवार बस गए,लेकिन उन्होंने भारतीय संस्कृति को विस्मृत नहीं किया। विदेशों में भारत जैसी जलवायु नहीं है। इसलिए वहां के माहौल के हिसाब से ही करवा चौथ का पर्व मनाया जाता है। बहू विदेश में रहती है तो सास के लिए इंटरनेट के जरिए गिफ्ट भेज रही है। परदेस के आकाश में बादल छाए रहने पर चांद नहीं दिखता। ऐसे में फोन के जरिए भारत में पूछा जाता है कि चांद दिख गया क्या..? कई महिलाएं ऐसी भी हैं जिनके पति विदेश में रहते हैं, लेकिन पत्नी करवा चौथ का व्रत रख कर पति के दीर्घायु की कामनाएं कर रही है। इंटरनेट के जरिए फोटो भेजने,संदेश व भावनाओं का इजहार बढ़ गया है। अब इंटरनेट पर केवल फोटो और चांद ही नहीं देख सकते, बल्कि इस त्यौहार से जुड़ी हर जानकारी भी हासिल संभव है। सोशियल मीडिया की वजह से आजकल सभी जानकारी आसानी उपलब्ध हो रही है।...

फोटो - http://v.duta.us/ASWD_AAA

यहां पढें पूरी खबर- - http://v.duta.us/yM56lAAA

📲 Get Ajmer News on Whatsapp 💬