अब धान की फसल में आया यह रोग, किसानों को हो सकता है भारी नुकसान

  |   Gwaliornews

ग्वालियर। ज्यादा बारिश से तिल, मूंग व उड़द की फसल में नुकसान तो पहले ही हो गया है। अब किसानों के लिए एकमात्र उम्मीद की किरण धान में भी कई रोग फैलने लगे हैं। इससे किसानों को चिंता सताने लगी है। इन रोगों से पांच से दस फीसदी फसलों में नुकसान होने की आशंका है। हालांकि कृषि विभाग ने इस दिशा में ज्यादा कोई पहल नहीं की है। किसान रोगों से बचने के लिए दफ्तर के चक्कर लगाने लगे हैं। जिले में हजारों किसानों ने 64 हजार हेक्टेयर जमीन में फसल बो रखी है।

किसानों ने इस बार खरीफ फसल के मौसम में 83 हजार हेक्टेयर में उड़द बोया था। इसके अलावा तिल व मूंग की फसल भी बोई गई थी। जिले में ज्यादा बारिश होने से तिल, उड़द, मूंग में भारी नुकसान हुआ है, लेकिन किसानों में उम्मीद जागी थी कि जिनके पास धान की फसल है उन्हें धान की पैदावार से फायदा होगा, लेकिन किसानों की वो उम्मीद भी टूटने लगी है कि अगर यह फसल भी बीमार हो गई तो वे क्या करेंगे। कृषि विभाग के अधिकारियों के मुताबिक इस बार पिछले साल की तुलना में दो गुना से ज्यादा रकबे में धान बोई गई है।...

फोटो - http://v.duta.us/QObVjgAA

यहां पढें पूरी खबर- - http://v.duta.us/UHdulwAA

📲 Get Gwalior News on Whatsapp 💬