इस शहर से दूर हो गया मौत का साया

  |   Ujjainnews

शाजापुर. कभी किसी त्योहार की खुशी, कहीं शादी जश्न को मातम में बदलने, किसी बच्चे से पिता का साया तो किसी बहन से भाई का जुदा होना, किसी ने जवान बेटे के बिखरे जिस्म को समेटा तो कभी खून से सनी सडक़े और अपनों की खीच पुकार, असमय मौत की काली छाया...। अब तक शहर से निकला नेशनल हाइवे शहरवासियों को देता आया था। एक-दो दिन नहीं करीब 20 सालों से अधिक समय से ऐसी अनेकों दुर्घटाए इस हाइवे ने देखी हैं। तब से ही शहर के लोग हाइवे के इस खौफ से भयभीत हैं, लेकिन अब वर्षों पुरानी मांग पूरी हो चुकी है। शहर से निकलने वाले हजारों वाहन शहर में नहीं आ रहे हैं, जिससे दुर्घटनाएं कम होंगी। लोगों की जान बचेगी तो घर में खुशहाली रहेगी, लेकिन जिन लोगों को इस हाइवे ने दर्द दिया, वह इसे कैसे भुलाए, अब वह सिर्फ यही कामना करते हैं कि ऐसा हादसा किसी के साथ न हो।...

फोटो - http://v.duta.us/VtBMxQAA

यहां पढें पूरी खबर- - http://v.duta.us/Jt8_kgAA

📲 Get Ujjain News on Whatsapp 💬