उत्तराखंड: तीन पीढ़ियों से रामलीला में हिस्सा ले रहा है पाकिस्तान से आया ये रिफ्यूजी परिवार

  |   Uttarakhandnews

हरिद्वार. उत्तराखंड (Uttarakhand) के रुद्रपुर (Rudrapur) जिले की मुख्य रामलीला में एक रिफ्यूजी परिवार (Refugee Family) पिछली तीन पीढ़ियों से लगातार हिस्सा ले रहा है. बंटवारे के बाद पाकिस्तान से आए खत्री पंजाबियों के परिवार की तीसरी पीढ़ी के कलाकार बीते कई वर्षों से रामलीला में अदाकारी कर रहे हैं.

दस दिनों तक करते हैं अनुशासन का पालन

रुद्रपुर में आयोजित होने वाली इस रामलीला में अभिनय करने वाले सभी पात्र रामलीला मंचन के दौरान पूरे दस दिनों तक अनुशासन में रहते हुए जमीन पर सोते हैं और ब्रह्मचर्य का पालन भी करते हैं. इसके अलावा दस दिनों तक ये सभी कलाकर तामसिक भोजन का त्याग कर पूरी तरह से रामलीला के मंचन में रम जाते है. सन् 1947 में रिफ्यूजी के तौर पर आकर तराई में बसे ये लोग प्रभु श्री राम के प्रति विशेष आस्था रखते हुए बड़े ही श्रद्धा भाव से रामलीला के सभी पात्रों का मंचन करते हैं...

फोटो - http://v.duta.us/WqvKZAAA

यहां पढें पूरी खबर- - http://v.duta.us/OUoWPgAA

📲 Get uttarakhandnews on Whatsapp 💬