चर्च पर हमले में फाइनल रिपोर्ट लगाने वाले विवेचक को देना होगा हिसाब

  |   Lakhimpur-Kherinews

लखीमपुर खीरी। क्राइस्ट चर्च पर बम से हमला करने के मामले में विवेचक पर कार्रवाई की तलवार लटक गई है। एसपी ने जांच के बाद कार्रवाई करने के संकेत दिए हैं। इससे अब विवेचक पर कार्रवाई तय मानी जा रही है।

पुराने एसपी बंगले के पास मोहल्ला कपूरथला स्थित क्राइस्ट चर्च पर 17 सितंबर 2016 को दो बमों से हमला किया गया था। धमका इतना तेज था कि खिड़कियों में लगी लोहे की ग्रिल की पत्तियां उखड़ गईं थीं। पादरी सीएल लायल की तहरीर पर पुलिस ने रिपोर्ट तो दर्ज की थी, लेकिन घटना के खुलासे में रुचि नहीं ली थी। विवेचक एसआई रफी आलम ने अभियुक्तों के प्रकाश में न आने का कारण दर्शाते हुए करीब आठ माह बाद मामले में फाइनल रिपोर्ट लगा दी थी। इधर एटीएस ने स्वत: मामले को संज्ञान में लेकर जांच की तो पूरा केस खुल गया। एटीएस की जांच रिपोर्ट में घटना का मास्टरमाइंड बहराइच का कमरू निकला। एटीएस ने घटना में शामिल छह लोगों के नामों का भी खुलासा किया था। सोमवार को एसपी के निर्देश पर सदर कोतवाली पुलिस ने घटना में शामिल थाना धौरहरा के गांव सिसैया कलां निवासी रामलाल और थाना निघासन के गांव हरसिंगपुर निवासी सज्जन अली को गिरफ्तार कर लिया था। उनके बयानों से साफ हो गया था कि बम फेंके जाना कोई साधारण घटना नहीं थी, बल्कि यह सुनियोजित हमला था। एसपी ने पूरे प्रकरण की जांच में विवेचक रफी आलम की लापरवाही मानी है। एसपी पूनम ने बताया कि मामले की जांच कराई जाएगी। जांच के बाद विवेचक के खिलाफ भी कार्रवाई की जाएगी।

यहां पढें पूरी खबर- - http://v.duta.us/d3PDLwAA

📲 Get Lakhimpur Kheri News on Whatsapp 💬