त्रिवेणी घाट पर धूं-धूंकर जला 60 फीट का रावण

  |   Rishikeshnews

सुभाष क्लब दशहरा कमेटी की ओर से दशहरा मेले का आयोजन किया गया। त्रिवेणी घाट पर स्थित टापू पर खड़े किए गए 60 फीट ऊंचे रावण और 50-50 फीट के मेघनाद और कुंभकरण के पुतलों को श्रीराम, लक्ष्मण और हनुमान के पात्रों ने राफ्ट से गंगा पार कर आग लगाई।

मंगलवार देर शाम साढ़े सात बजे क्लब की ओर से त्रिवेणी घाट परिसर में आयोजित दशहरा मेले का शुभारंभ किया गया। इस मौके रामलीला का मंचन भी किया गया। राम, लक्ष्मण, हनुमान, सुग्रीव, अंगद, नल-नील, जामवंत, विभीषण सहित समस्त वानर सेना की वेशभूषा में कलाकारों ने रावण, कुंभकरण और मेघनाद सहित राक्षसों की वेशभूषा पहने कलाकारों के साथ युद्ध का मंचन किया। काफी देर तक चले भीषण युद्ध के बाद कुंभकरण, मेघनाद और रावण का वध किया गया। इसी क्रम में तीनों के पुतले का भी दाह संस्कार किया गया। इस दौरान हजारों की संख्या में लोग पुतला दहन देखने पहुंचे। पुतला दहन होते ही पूरा घाट जय श्री राम के जयकारों से गूंज उठा। पुतला दहन के बाद श्रीराम लक्ष्मण और हनुमान को अशोक वाटिका में सीता को लेकर आने को भेजते है। लक्ष्मण और हनुमान अशोक वाटिका पहुंचकर माता सीता को लेकर आते है। इसके बाद सभी अयोध्या की ओर प्रस्थान करते है।...

फोटो - http://v.duta.us/2Hc66wAA

यहां पढें पूरी खबर- - http://v.duta.us/g1zOhAAA

📲 Get Rishikesh News on Whatsapp 💬