दशहरा पर देव दर्शन को उमड़ा आस्था का सैलाब

  |   Dehradunnews

दशहरा पर जौनसार बावर के मंदिरों में देव दर्शन को आस्था का सैलाब उमड़ पड़ा। श्रद्धालुओं ने देव पालकियों के दर्शन कर सुख और शांति की कामना की। देर शाम तक मंदिरों में भक्तों की भीड़ जुटी रही। मंगलवार को कनबुआ, सिमोग, बमराड़, कोटी कनासर, लखवाड़, लक्सयार और बिसोई स्थित मंदिर से महासू देवता की देव पालकियों को लोगों के दर्शन और पूजा-अर्चना के लिए बाहर निकाला गया। लोगों ने चावल, अखरोटी की बारिश कर देव स्तुति की। लोगों ने ईष्ट देवता के दर्शन कर मन्नत मांगी और भेंट चढ़ाई।

बिसोई महासू देवता मंदिर में सुबह 11 बजे महासू देवता की पूजा-अर्चना की गई। इसके बाद देव पालकी को दर्शन के लिए गर्भगृह से बाहर निकाल कर नचाया गया। हर कोई देव पालकी को कंधा देने के लिए आतुर दिखा। लोगों ने देव दर्शन कर सुख और समृद्धि की कामना की। पूरा मंदिर परिसर महासू देवता के जयकारे से गूंज उठा। महासू देवता लखवाड़ और लखस्यार मंदिर में भी सुबह सात बजे से ही देव दर्शन को लोगों के पहुंचने का क्रम शुरू हो गया जो देर शाम तक जारी रहा। इस अवसर पर महासू मंदिर समिति के अध्यक्ष खुशी राम जोशी, बजीर महेंद्र सिंह, भंडारी परम सिंह, पुजारी किशन दत्त पाण्डेय, स्याणा गजेन्द्र सिंह चौहान, भरत सिंह, ज्ञान सिंह, बलबीर, सुंदर सिंह आदि मौजूद रहे। कनबुआ गांव में भी देव पालकियों को दर्शन के लिए बाहर निकाला गया। लोगों ने देव पालकी के दर्शन कर सुख समृद्धि की कामना की। इस अवसर पर शांति सिंह पंवार, अषाढ़ सिंह पंवार, जालम सिंह पंवार आदि मौजूद रहे।...

फोटो - http://v.duta.us/ZUesoAAA

यहां पढें पूरी खबर- - http://v.duta.us/-8exGAAA

📲 Get Dehradun News on Whatsapp 💬