पत्रकारिता प्रोफेशन नहीं मिशन है, जिसके अंदर चिंगारी नहीं वो पत्रकार नहीं बन सकता : डॉ. गुलाब कोठारी

  |   Bhopalnews

भोपाल/ सृष्टि में अपना पराया कोई नहीं है। हमें अपने मूल्यों के साथ काम करना चाहिए। हमें जीवन के भीतर देखना है। हम दूसरों को देखते हैं आलोचना करते हैं। लेकिन खूद को नहीं देखते। पत्रकारिता जीवन की पहली शर्त है खुद को देखो। मैं क्या नहीं कर सकता। ये बात पत्रिका समूह के प्रधान संपादक डॉ. गुलाब कोठारी जी माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता एवं संचार विश्वविद्यालय द्वारा आयोजित दिशाबोध कार्यक्रम पत्रकारिता के विद्यार्थियों और शिक्षकों को संबोधित करते हुए कही।

पत्रकारिता के मूल्यों को समझाते हुए पत्रिका समूह के प्रधान संपादक ने कहा कि मुझे ऐसे पत्रकार नहीं बनना, जो किसी के काम न आ सके। पत्रकारिता हमें पत्रकार के रूप में करनी है। इंसान बन कर ही जीना है। हम पत्रकारिता को प्रोफेशन मान बैठे हैं। प्रोफेशन दिमाग से चलता है। उन्होंने कहा कि ये भौतिक सत्य है कि मैं शरीर काम में ले रहा हूं इस समाज के लिए। आपका शरीर काम आ रहा है समझने के लिए। दिमाग आपका काम आ रहा है, सच बोल रहा हूं या झूठ बोल रहा हूं। हर शब्द के उपर दिमाग काम कर रहा है।...

फोटो - http://v.duta.us/uBr6SwAA

यहां पढें पूरी खबर- - http://v.duta.us/cLmSlwAA

📲 Get Bhopal News on Whatsapp 💬