बनारस के तीनों गुट को नई कार्यकारिणी में साध गई कांग्रेस, बराबरी का संदेश देकर युवाओं को भी साधा

  |   Varanasinews

लोकसभा चुनाव में करारी शिकस्त झेल चुकी कांग्रेस नए समीकरणों के साथ पूर्वांचल में जमीन मजबूत करना चाहती है। प्रदेश की नई कार्यकारिणी में बनारस के तीनों धड़ों को एक समान जगह देकर न केवल समन्वय का संदेश दिया है, बल्कि पूर्व विधायक ललितेशपति को उपाध्यक्ष बनाकर युवाओं को अपने पाले में करने की कोशिश की है।

राजनीतिक अनुभव का लाभ लेने के लिए

पूर्व सांसद राजेश मिश्रा के कांग्रेस ने उनको भी सलाहकार परिषद में शामिल किया है। पूर्व सांसद एक ऐसा नाम हैं, जिस पर किसी तरह का दाग नहीं है। साथ ही वह प्रखर वक्ता भी हैं। 1999 में पार्टी ने भाजपा प्रत्याशी शंकर प्रसाद जायसवाल के खिलाफ जब मैदान में उतारा तो इन्होंने पहली बार में ही अपनी छाप छोड़ी। 2004 में भाजपा के गढ़ में उन्होंने जीत दर्ज की। जुझारूपन ने ही पूर्व सांसद को यह अहम जिम्मेदारी दिलाई है।...

फोटो - http://v.duta.us/rAr7xwAA

यहां पढें पूरी खबर- - http://v.duta.us/xrGhWQAA

📲 Get Varanasi News on Whatsapp 💬