मिनटों में धराशायी हुए असुरी शक्तियों के प्रतीक

  |   Jaisalmernews

जैसलमेर. विजयदशमी के पावन पर्व पर असुरी शक्तियों के प्रतीक दशानन रावण, कुंभकर्ण और मेघनाद के पुतलों का दहन देखने पूनम स्टेडियम में हजारों की भीड़ उमड़ पड़ी। मंगलवार को अपूर्व आतिशबाजी के नजारे देखकर हर कोई रोमांचित हो गया। मंगलवार शाम पौने सात बजे जिला कलक्टर नमित मेहता और पुलिस अधीक्षक डॉ. किरण कंग के साथ जनप्रतिनिधियों के तौर पर प्रधान अमरदीन फकीर व उषा राठौड़ ने स्विच दबाने की रस्म निभाई और सबसे पहले रावण के मुंह तथा आंखों से रोशनियां फूटने लगी। उसके बाद उसके पूरे जिस्म में आतिशी धमाके हुए और वह धूं-धूं कर जलने लगा। बारी-बारी से अन्य दो पुतले जलाए गए। इस बार रावण का दहन सूर्यास्त के बाद ही हुआ।...

फोटो - http://v.duta.us/JkWWqQAA

यहां पढें पूरी खबर- - http://v.duta.us/t-K5sAAA

📲 Get Jaisalmer News on Whatsapp 💬