राखी का नाम वीरता पुरस्कार के लिए भेजने की कवायद शुरु

  |   Kotdwarnews

कोटद्वार/सतपुली। गुलदार के पंजे से अपने चार वर्षीय छोटे भाई राघव की ढाल बनी बहादुर बेटी राखी रावत का नाम वीरता पुरस्कार के लिए भेजने की तहसील प्रशासन की ओर से कवायद शुरू कर दी गई है। मंगलवार को राजस्व विभाग के अधिकारियों की टीम ने गांव पहुंचकर घटनास्थल का मुआयना किया।

गत शुक्रवार को दोपहर दो बजे खेत से अपनी मां के साथ घर लौट रही 11 वर्षीय राखी और उसके चार साल के भाई राघव पर गुलदार ने हमला कर दिया था। तब इस बहादुर बच्ची ने अपने भाई की ढाल बनकर उसकी जान बचाई। इसमें गुलदार ने उसे बुरी तरह से जख्मी कर दिया था। मंगलवार को जिलाधिकारी डीएस गर्ब्याल के निर्देश पर राजस्व विभाग की टीम बीरोंखाल ब्लाक के चौबट्टाखाल तहसील क्षेत्रांतर्गत राखी के गांव देवकुंडाई पहुंची। एसडीएम चौबट्टाखाल सौरभ असवाल ने बताया कि राजस्व उपनिरीक्षक सैंधार कांता प्रसाद के नेतृत्व में गांव पहुंची राजस्व विभाग की टीम ने राखी की मां और भाई से घटनाक्रम की विस्तृत जानकारी ली। इसकी रिपोर्ट जिलाधिकारी को भेजी जा रही है।...

यहां पढें पूरी खबर- - http://v.duta.us/I4dRxwAA

📲 Get Kotdwar News on Whatsapp 💬