रावण के कुनबे का अंत देखने उमड़े लोग, 90 सैकण्ड में हुआ बुराई का अंत

  |   Bundinews

बूंदी. असत्य, अहंकार व बुराई के प्रतीक च्रावणज् का मंगलवार को एक बार फिर अंत हुआ।आतिशी नजारे व लोगों का उल्लास चरम पर था। अन्याय की हार व सत्य की जीत को देखने के लिए रात को शहर के कुंभा स्टेडियम में सैंकड़ों लोगों की भीड़ मौजूद रही। इस दौरान मेघनाद, कुंभकरण व रावण के पुतलों का दहन किया गया। सबसे पहले कुंभकरण राख हुआ। इसके बाद मेघनाद जलाया। अंत मेें रावण जला।तीनों पुतलों को जलने में मात्र 90 सैकण्ड का वक्त लगा।

इससे पहले राम-रावण का युद्ध हुआ। रावण के पुतले ने जलने से पहले तलवार चलाई, आंख की पुतली हिलाई और गर्दन घुमाई। लोग इस नजारे को देखने के लिए देर शाम से ही स्टेडियम पहुंच रहे थे। रावण दहन से पहले आतिशबाजी की गई। आतिशी नजारों को देखकर हर कोई रोमांचित हो उठा।...

फोटो - http://v.duta.us/Nxc7NwEA

यहां पढें पूरी खबर- - http://v.duta.us/Mk_jbAAA

📲 Get Bundi News on Whatsapp 💬