सूर्य का तुला राशि में गोचर: आपकी राशि में इस गोचर का प्रभाव और परेशानियों से बचाव के खास उपाय

  |   Bhopalnews

भोपाल। ज्योतिष में सूर्य देव को नवग्रहों का राजा माना जाता है।जिसे आत्मा का कारक माना गया है। सूर्य को सनातनधर्मी आदि पंच देवों में से एक मानते हैं। साथ ही वे इसे कलयुग में एकमात्र दृश्य देव के रूप में भी पूजते है। सूर्य का रत्न माणिक्य है।

कुंडली में मौजूद सभी 12 राशियों में से केवल एक राशि सिंह का स्वामित्व सूर्य देव को प्राप्त है। इसके साथ ही सूर्य देव कृतिका, उत्तराफाल्गुनी उत्तराषाढ़ा नक्षत्रों के स्वामी हैं।

राशि परिवर्तन: सूर्य गोचर का समय...

पिछले दिनों हुए कई ग्रहों के राशि परिवर्तन के बाद एक बार फिर सूर्य देव अब 18 अक्टूबर 2019, शुक्रवार 00:41 बजे कन्या से तुला राशि में गोचर करेंगे। वे 17 नवंबर 2019, रविवार 00:30 बजे तक इसी राशि में स्थित रहेगा। सूर्य के इस राशि परिवर्तन का प्रभाव सभी राशियों पर होगा।...

फोटो - http://v.duta.us/xZ61XQAA

यहां पढें पूरी खबर- - http://v.duta.us/ll6-0wAA

📲 Get Bhopal News on Whatsapp 💬