23 लाख खर्च करने के बाद भी नहीं हासिल हुआ मकसद

  |   Sikarnews

जर्नादन शर्मा

खंडेला. कस्बे में अपराधिक वारदातों पर अंकुश लगाने की योजना को पलीता लग गया है। इसके लिए नगर पालिका की ओर से लाखों रुपए खर्च करके मुख्य स्थानों पर 45 सीसीटीवी कैमरे लगवाए थे। करीब छह माह तक तो ये कैमरे ऐसे ही खंभों पर लटके रहकर कस्बे की शोभा बढ़ा रहे थे। इसके बाद दो तीन माह पूर्व इन कैमरों को चालू किया गया तो इनकी सही कनेक्टिविटी नहीं मिलने पर इनमें कुछ चालू रहते थे ओर कुछ स्वत: ही बंद हो जाते थे, जिससे ये होते हुए भी ना होने के बराबर है।

कस्बे में ठेकेदार ने सीसीटीवी कैमरे लगाकर उनका कंट्रोल रूम पुलिस चौकी में स्थापित कर इतिश्री तो कर ली। पूरे कैमरे चालू नहीं होने से ये होने न होने के बराबर है। ये कैमरे अब भी महज शो पीस बनकर ही कस्बे के चौराहों की शोभा बढ़ा रहे हैं। कस्बे में लगे करीब 23 लाख रुपए के 45 कैमरों में से एक दो कैमरे ही चालू है। हर बार सीएलजी की बैठक में सीसीटीवी कैमरें चालू करवाने की मांग की जाती है।...

फोटो - http://v.duta.us/rcrGSQAA

यहां पढें पूरी खबर- - http://v.duta.us/GNVC1wAA

📲 Get Sikar News on Whatsapp 💬