75 वर्ष के बुजुर्ग को पुलिस ने घोषित कर दिया गुंडा, कारण पूछा तो हैरान करने वाला जवाब आया सामने

  |   Rewanews

रीवा। पुलिस द्वारा गुंडा एक्ट के तहत की गई कार्रवाई का कारण जानने के लिए परेशान 75 वर्षीय गणनायक तिवारी ने सूचना का अधिकार के तहत जानकारी मांगी थी। उन्होंने स्वयं पर की गई कार्रवाई का कारण जानना चाहा था। जिस पर पुलिस कई महीने से भटकाने का प्रयास कर रही थी। पहले थाना प्रभारी ने जानकारी देने से इंकार किया फिर पुलिस अधीक्षक कार्यालय ने भी जानकारी देने में आनाकानी कर दी और कहा गया कि जो जानकारी मांगी जा रही है, उससे पुलिस की गोपनीयता भंग हो जाएगी।

अपीलकर्ता गणनायक प्रसाद तिवारी ने राज्य सूचना आयोग में इसकी अपील की। बीते महीने वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए इस मामले की सुनवाई हुई। जिसमें राज्य सूचना आयुक्त राहुल सिंह ने एडिशनल एसपी से जानकारी नहीं देने का कारण पूछा तो वहां पर भी यही बताया गया कि गोपनीयता भंग होगी इनके द्वारा मांगी गई जानकारी देने पर। आयुक्त ने एडिशनल एसपी पर नाराजगी जाहिर की थी और कहा था कि वह सूचना का अधिकार अधिनियम का अध्ययन करें और इस तरह का जवाब आगे से नहीं दिया जाए। इसके साथ ही आयुक्त ने लोक सूचना अधिकारी पनवार थाना प्रभारी की व्यक्तिगत सुनवाई आयोग के सामने लगा दी थी।...

फोटो - http://v.duta.us/sAbBhwAA

यहां पढें पूरी खबर- - http://v.duta.us/JE91IgAA

📲 Get Rewa News on Whatsapp 💬