विदेश में👉 जीतने से कमतर नहीं घरेलू जमीन पर मिली👌 जीत-अनिल कुंबले

  |   क्रिकेट / Punjabcricket

भारतीय क्रिकेट टीम के दिग्गज लेग स्पिनर अनिल कुंबले ने कहा है कि घर में मिली जीत को विदेशी में जीतने से कमतर नहीं आंकना चाहिए। कुंबले के अनुसार, आमतौर पर क्रिकेट जगत और यहां तक कि प्रशंसक भी विदेश में टीम के जीतने की तुलना में घरेलू जमीन पर मिली जीत को हल्के में लेते हैं।

कुंबले ने कहा, 'जब मैं क्रिकेट खेला करता था, तब भी ये चुनौती थी। मतलब जब भी भारतीय टीम घरेलू जमीन पर खेलती है तो उसकी जीत को हल्के में लिया जाता है, जबकि आप विदेश में हारते हैं तो ये कहा जाता था कि इस तरह के मैच आपको जीतने चाहिए थे। अगर आप टेनिस का उदाहरण लें तो किसी को इस बात से फर्क नहीं पड़ता कि आप कहां जीत रहे हैं।

उन्हाेंने कहा कि बेशक कुछ खिलाड़ी क्ले कोर्ट चैंपियन होते हैं तो कुछ का ग्रास कोर्ट पर दबदबा होता है, लेकिन वे सभी चैंपियन होते हैं। कोई ये नहीं कहता कि फलां खिलाड़ी ने फलां टूर्नामेंट नहीं जीता तो वो संपूर्ण चैंपियन नहीं है। ये सभी महान खिलाड़ी हैं। आपको समान अहमियत मिलनी जरूरी है। मुझे खुशी है कि आईसीसी टेस्ट चैंपियनशिप के बाद से ऐसा हो रहा है। कोई भी अब घर में मिली जीत को हल्के में नहीं ले रहा है।

फोटो - http://v.duta.us/_kaAuAAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/nMz7GAAA

📲 Get क्रिकेट on Whatsapp 💬