गजरौला में बाघ का सांड़ पर हमला, अधखाया शव मिला

  |   Pilibhitnews

गजरौला (पीलीभीत)। माला जंगल से दूर गजरौला क्षेत्र के अंतर्गत आबादी के निकट घूम रहे बाघ किसानों के लिए मुसीबत बन गए हैं। बुधवार रात खेतों की ओर चहलकदमी कर रहा बाघ क्षेत्र के लालपुर गांव के निकट पहुंच गया। यहां खेत में घूम रहे छुट्टा सांड़ पर हमला कर उसे अपना शिकार बना लिया। गुरुवार सुबह खेतों की ओर पहुंचे ग्रामीणों की जानकारी पर क्षेत्रीय वनकर्मियों ने मौका मुआयना कर बाघ के पगचिह्न ट्रेस किए।

टाइगर रिजर्व से बाहर अधिकतर इलाकों में बाघों की चहलकदमी देखी जा रही है। गजरौला क्षेत्र के अंतर्गत करीब आधा दर्जन गांव के आसपास भी पूर्व से ही बाघ की दहशत है। खेतों में बाघ की चहलकदमी के चलते किसान मुसीबत में है। देर शाम खेतों की ओर जाने से कतरा रहे हैं। इधर, बुधवार रात खेतों की ओर चहलकदमी कर रहा बाघ क्षेत्र के लालपुर गांव की आबादी के दो सौ मीटर दूरी पर पहुंच गया। यहां ग्राम प्रधान मिलाप सिंह के खाली पड़े खेत में घूम रहे छुट्टा सांड़ पर हमला कर उसे अपना शिकार बना लिया। गुरुवार सुबह खेतों की ओर पहुंचे ग्रामीण रविंद्र कुमार ने सांड़ का अधखाया और क्षतविक्षत शव देखा तो बाघ के हमले का अहसास हो गया। शव के आसपास बाघ के पगचिह्न देखे तो होश उड़ गए। दहशत के चलते गांव की ओर पहुंचा और जानकारी दी। वहीं सूचना वन विभाग को दी गई। इस पर माला रेंज के बीट प्रभारी सत्यवीर सिंह संधू टीम के साथ मौके पर पहुंचे। जानकारी जुटाने के साथ बाघ के पगचिह्न ट्रेस किए।...

यहां पढें पूरी खबर- - http://v.duta.us/2Y3ERAAA

📲 Get Pilibhit News on Whatsapp 💬