ट्रेनों में खाने के बीच रखकर नशे का सामान बेच रहे वेंडर

  |   Gwaliornews

ग्वालियर. ट्रेनों में अक्सर जहरखुरानी के मामले सामने आते हैं। इसके रोकने के लिए रेलवे प्रशासन विज्ञापन के जरिए यात्रियों को जागरुक करता है। ऐसे में रेल में यदि नशे का सामान मिले तो इसके लिए रेलवे प्रशासन पूरी तरह से दोषी है। क्योंकि ट्रेन में नशा करना और नशे की सामग्री बेचना प्रतिबंधित है। लेकिन रेलवे प्रशासन को गुमराह करने के लिए यात्रियों की सुविधा के लिए चलने वाले वेंडर खाने की सामग्री के साथ नशे की सामग्री भी बेच रहे हैं। यह वेंडर यात्री की डिमांड के अनुसार नशे की सामग्री उपलब्ध करा देते हैं। इसके लिए उनके द्वारा मनमाने पैसे भी वसूले जाते हैं। लेकिन नशे के आदी लोग पैसों की चिंता न करते हुए ज्यादा पैसे देकर वेंडरों से नशे की सामग्री खरीद लेते हैं और चोरी-छिपे ट्रेन में ही इसका सेवन भी करते हैं। वेंडरों द्वारा किए जा रहे नशे के धंधे पर ट्रेन में सुरक्षा के लिए चलने वाले आरपीएफ के जवान ध्यान नहीं देते हैं, इससे वेंडर आसानी से अवैध धंधा करते रहते हैं। पत्रिका रिपोर्टर के स्टिंग में इसका खुलासा हुआ। (पत्रिका के पास वीडियो उपलब्ध है)...

यहां पढें पूरी खबर- - http://v.duta.us/9nGlcgAA

📲 Get Gwalior News on Whatsapp 💬