पीडीएस दुकानों पर नान का ढाई करोड़ रुपए बकाया, अटक सकता है खाद्यान्न

  |   Sheopurnews

श्योपुर,

उचित मूल्य की दुकानों पर भेजे जाने वाले खाद्यान्न की राशि का भुगतान नान को समय पर नहीं हो रहा है। ऐसे में नान का पीडीएस दुकानों पर ढाई करोड़ रुपए से भी अधिक की राशि बकाया हो गई है। यही वजह है कि अब दुकानों पर जाने वाले खाद्यान्न अटक सकता है। हालांकि पिछले बरसों का बकाए में से पिछले महीनों में कुछ राशि नान को मिली है, लेकिन अब फिर से बकाया का आंकड़ा बढ़ रहा है, जिसके चलते नान डीएम ने बकाया का भुगतान कराने के लिए कलेक्टर को पत्र लिखा है।

बीते चार सालों में नागरिक आपूर्ति निगम द्वारा जिले की उचित मूल्य की दुकानों पर पीडीएस का खाद्यान्न वितरण के लिए गेहूं, चावल और शक्कर का आवंटन सहकारी संस्थाओं और समितियों को किया, लेकिन संस्थाओं, समितियों और दुकान संचालकों ने समय पर भुगतान नहीं किया, जिसके चलते 10 नवंबर तक की स्थिति में 2 करोड़ 65 लाख 71 हजार रुपए की राशि बकाया चल रही है। चूंकि सार्वजनिक वितरण प्रणाली सीधे आमजनता से जुड़ी योजना है, लिहाजा नान उचित मूल्य की दुकानों का खाद्यान्न भी नहीं रोक सकता है। ऐसे में नान के अफसरों के समक्ष संकट है कि बकाया राशि बढ़ती जा रही है, लेकिन दुकान संचालक और संस्था प्रबंधक राशि नहीं जमा नहीं कर रहे हैं। यही वजह है कि पीडीएस की बकाया राशि ऐसे ही बढ़ी तो दुकानों पर खाद्यान्न आवंटन अटक सकता है। यही वजह है कि अब नागरिक आपूर्ति निगम के डीएम ने श्योपुर कलेक्टर को इस संबंध में पत्र लिखा है, जिसमें भुगतान कराने जाने की मांग की है।...

यहां पढें पूरी खबर- - http://v.duta.us/e32p3QEA

📲 Get Sheopur News on Whatsapp 💬