अवैध बजरी परिवहन पर कसा शिकंजा, अब एनजीटी में एक लाख जुर्माना भरने पर छूटेगा वाहन

  |   Dholpurnews

धौलपुर पुलिस ने तीन ट्रक किए जब्त

धौलपुर. अब अवैध रूप से बजरी खनन व परिवहन करते हुए पकड़े जाने पर ट्रक व ट्रैक्टर-ट्रॉली पर विभागीय जुर्माने के अलावा एनजीटी (नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल) की ओर से एक लाख रुपए का जुर्माना लगेगा।

न्यायालय के आदेश के बाद बजरी के अवैध खनन और परिवहन पर अंकुश लगाने के लिए सरकार ने सख्ती करना शुरू कर दिया है। पुलिस अधीक्षक मृदुल कच्छावा ने बताया कि बजरी का अवैध खनन या परिवहन करने वाले खनिज माफिया अब पकड़े गए तो उनको एक लाख की पेनल्टी एनजीटी में जमा करानी पड़ेगी। इस पेनल्टी का ट्रैक्टर ट्रॉली से बजरी का परिवहन करने वाले माफियाओं पर ज्यादा असर पड़ेगा। इससे पहले एनजीटी पेनल्टी नहीं लगती थी। ऐसे में बजरी माफिया केवल जुर्माने की राशि जमा कराकर फिर से अवैध रूप से बजरी का परिवहन करने लग जाते थे। अब पुलिस मुकदमे में जब्त बजरी के वाहनों को एनजीटी के आदेश के बाद ही रिलीज किया जाएगा। एनजीटी पेनल्टी लगने से अवैध रूप से किए जा रहे अवैध बजरी परिवहन पर अंकुश लग सकेगा। पुलिस अधीक्षक ने बताया कि पहले वन व खान विभाग के अधिकारी पुलिस के साथ मिलकर अवैध रूप से बजरी का परिवहन करने वाले वाहनों को पकड़ लेते थे। इसके बाद विभागों के अधिकारी पुलिस थाने में चालक के खिलाफ मुकदमा दर्ज करा देते थे। पुलिस विभाग की रिपोर्ट के आधार पर बजरी से भरे वाहनों को जब्त कर लेती थी और विभाग में जुर्माना राशि भरकर वाहन स्वामी अपने वाहन को रिलीज करा लेता था और फिर से परिवहन कार्य में लगा देता था। लेकिन अब जुर्माने की राशि के साथ वाहन चालक को एक लाख की एनजीटी पेनल्टी भी देनी पड़ेगी। तभी एनजीटी के आदेशों के बाद ही पुलिस जब्त वाहन को रिलीज करेगी। पुलिस अधीक्षक ने बताया कि गुरुवार को धौलपुर पुलिस ने अवैध बजरी परिवहन करने वाले वाहनों पर वन विभाग के साथ संयुक्त कार्यवाही करते हुए 3 ट्रकों को सीज किया है।...

यहां पढें पूरी खबर- - http://v.duta.us/653NNAAA

📲 Get Dholpur News on Whatsapp 💬