इसरो के मिशन🛰️ 'गगनयान' की उल्टी गिनती शुरू, 👉ट्रेनिंग के लिए रूस रवाना हुए आईएएफ के 7 👏पायलट

  |   Hindielections / समाचार

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) के पहले मानवयुक्त मिशन 'गगनयान' के लिए अंतरिक्ष यात्रियों का चयन कर लिया गया है। कड़े टेस्ट से गुजरने के बाद भारतीय वायुसेना के 12 पायलटों को इसके लिए चुना गया है जिनमें से 7 लोगों को ट्रेनिंग के लिए रूस रवाना कर दिया गया है। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक भारतीय वायुसेना के एक अधिकारी ने यह जानकारी दी है।

पहचान छिपाए जाने की शर्त पर अधिकारी ने मीडिया को बताया कि, गगनयान के लिए अंतरिक्ष यात्रियों का चयन कर लिया गया है और 7 लोगों के पहले बैच को ट्रेनिंग के लिए रूस रवाना कर दिया गया है। अधिकारी ने आगे बताया कि, प्रथम स्तर में गगनयान परियोजना के लिए 12 का चयन किया गया है। यह एक स्क्रीनिंग प्रक्रिया है इसके बाद आखिर में इनमें से चार लोगों को चुना जाएगा। उन्होंने ने बताया कि, मिशन लॉन्च के होने के समय अतंरिक्ष में जाने के लिए 1 या 2 'गगन यात्री' का चयन किया जाएगा।

मालूम हो कि, मिशन गगनयान के लिए अंतरिक्ष यात्रियों के चयन के लिए वायुसेना के पायलटों की आयु को 30 साल तक निर्धारित किया गया था। एयर मार्शल एमएस बुटोला ने बताया कि इस आयु वर्ग का कोई भी पायलट शुरुआती परीक्षा पास नहीं कर सका इसलिए आयु सीमा बढ़ा कर 41 वर्ष कर दिया गया था। उन्होंने बताया कि मानव को अंतरिक्ष में ले जाने वाले विमान में जीवनरक्षक प्रणाली, स्वास्थ्य निगरानी प्रणाली और विमान सहयोग प्रणाली पर कार्य किया जा रहा है।

यहां पढें पूरी खबर - http://v.duta.us/7_K7tAAA

फोटो - http://v.duta.us/EPl0AgAA

📲 Get समाचार on Whatsapp 💬