एक सरकारी दफ्तर ऐसा भी... लेखा शाखा ताले में कैद, वेतन चाहिए तो खुद ही बनाओ बिल

  |   Palinews

रायपुर मारवाड़. कस्बे के राजकीय चिकित्सालय में लेखा शाखा का दफ्तर पिछले तीन माह से ताले में कैद है। वजह है कि यहां पांच कार्मिक पदस्थापित थे। इन सभी का बारी-बारी से तबादला कर दिया गया। इनके स्थान पर आज तक स्थायी तो दूर वैकल्पिक व्यवस्था के लिहाज से भी किसी को नहीं लगाया गया। अब हालात ये हैं कि चिकित्सकों से लेकर अन्य सभी स्टाफकर्मियों को अपने वेतन के लिए ड्यूटी समय के बाद खुद ही वेतन बिल तैयार करना पड़ता है।

चिकित्सालय में लेखाकार का एक, सहायक लेखाकार का एक, संविदा लेखाकार का एक, कनिष्ठ लिपिक के दो पद स्वीकृत है। यहां इन पांचों पदों पर कार्मिक पदस्थापित थे। छह माह पहले दो तबादला सूची जारी हुई। जिसमें बचे हुए तीनों कार्मिकों के भी तबादले कर दिए गए। अब लेखा शाखा पर ताला है। जिसे खोलने वाला कोई नहीं है।...

यहां पढें पूरी खबर- - http://v.duta.us/AjUdAgAA

📲 Get Pali News on Whatsapp 💬