ऐगे चौदिसु मौल्यार, गैल्या ऐजा ऐजा...............

  |   Paurinews

शरदोत्सव की तीसरी सांस्कृतिक संध्या गढ़रत्न प्रसिद्ध लोक गायक नरेंद्र सिंह नेगी के नाम रही। इस दौरान लोक गायक अनिल बिष्ट और लोक गायिका मीना राणा की प्रस्तुतियों पर भी युवा जमकर थिरकते रहे।

बुधवार शाम रामलीला मैदान में आयोजित तीसरी सांस्कृतिक संध्या का शुभारंभ मुख्य अतिथि पूर्व ब्लाक प्रमुख पौड़ी मुकेश नेगी ने किया। उन्होंने शरदोत्सव को पौड़ी की लोक सांस्कृतिक धरोहर बताया। सांस्कृतिक संध्या में लोक गायक नरेंद्र सिंह नेगी ने शिव भोले भंडारी की स्तुति से कार्यक्रम की शुरुआत की। नेगी दा ने जैसे ही तेरी कराली नजर मारी गे... गीत प्रस्तुत किया दर्शक झूम उठे। उन्होंने बाटु च सम्वारा, गंगाड्या भिना सर्र, धगुला- झंवरा झणमणांद गीतों की मनमोहक प्रस्तुतियां दीं। जै बदरीनाथ जी... गीत पर कलाकारों के सामूहिक नृत्य को दर्शकों ने खूब सराहा। लोक गायिका मीना राणा ने ऐगे चौदिसु मौल्यार गैल्या ऐजा ऐजा, चल ईं दुन्यां से दूर चली जौंला, ओ साहिबा की प्रस्तुतियों पर दर्शकों की वाहवाही बटोरी। लोक गायक अनिल बिष्ट के हुंगरा लगौंदी भग्यानी, सेल्फी बांद, चैत की चैत्वाली... गीत पर युवा खूब थिरके। कार्यक्रम में ऊषा नेगी, राजलक्ष्मी, अंजलि मनियारी व रोशनी नेगी ने सर्ग तारा जुन्यलि राता... गीत पर भावुक प्रस्तुति दी। युवा लोक गायक प्रेम बल्लभ पंत ने देशी बौ गढ़वाली गीत की प्रस्तुति दी। कार्यक्रम का संचालन गणेश खुगशाल ने किया। इस अवसर पर सभासद अनीता रावत, यशोदा नेगी, मनमोहन सिंह, अनीता काला, विक्रम रावत, सरस्वती प्रकाश बहुगुणा, राकेश रमण शुक्ला और राठ उत्थान समिति के अध्यक्ष घनानंद रतूड़ी आदि मौजूद थे।...

फोटो - http://v.duta.us/txs-oQAA

यहां पढें पूरी खबर- - http://v.duta.us/RKM4NAAA

📲 Get Pauri News on Whatsapp 💬