कार्रवाई के बाद चेते पशुपालक, बांधे अपने जानवार

  |   Jalaunnews

उरई। कदौरा थाना क्षेत्र में अन्ना जानवर छोड़े जाने के मामले में 65 किसानों के खिलाफ एफआईआर दर्ज होने के बाद गुरुवार को गांव में कुछ अलग ही नजारा दिखा। अधिकांश पशुपालक अपने जानवरों को बांधते नजर आए और जिन पशुपालकों के पशु बाड़े से निकल गए तो उन्हें पालक खोजते दिखे। ग्रामीणों की मांग है कि इसी तरह प्रशासन तेजी दिखाकर गोशाला ठीक करा दे तो गांव से अन्ना समस्या पूर्णता खत्म हो जाएगी। वहीं बुधवार को थाना पुलिस ने गांव का निरीक्षण का पशुपालकों से बातचीत की।

बात दें कि सोमवार व मंगलवार को ग्राम पंचायत चतेला में अन्ना जानवरों ने कहर बरपाकर 37 बीघा की फसल को नष्ट कर दिया था। जिसको लेकर क्षेत्र के किसानों में आक्रोश व्याप्त था। किसानों ने आरोप लगाया था कि गांव में कई पशुपालक है जो अपने जानवरों को अन्ना छोड़ देते है, जिससे अन्ना आए दिन खेतों में घुस कर फसलों को नष्ट कर देते है। किसानों ने मामले की शिकायत जिलाधिकारी से की थी। मामले को गंभीरता से लेते हुए जिलाधिकारी डा मन्नान अख्तर ने बीडीओ को जांच के निर्देश दिए थे।...

फोटो - http://v.duta.us/f5BCxwAA

यहां पढें पूरी खबर- - http://v.duta.us/gNbF4QAA

📲 Get Jalaun News on Whatsapp 💬