गंगेश्वरी ब्लॉक क्षेत्र में 295 बच्चें बढ़ें, जिले में कुल 3443 बच्चें अतिकुपोषित

  |   Amrohanews

अमरोहा। अतिकुपोषित बच्चों की संख्या में कमी लाने की तमाम कोशिशें नाकाम साबित हो रही हैं। अक्तूूबर में गंगेश्वरी ब्लॉक में अतिकुपोषित बच्चों की संख्या में 198 की बढ़ोतरी हुई है। राहत की बात यह है कि धनौरा ब्लॉक क्षेत्र के अतिकुपोषित श्रेणी से 34 बच्चे बाहर हो गए हैं। खास बात यह है कि जिले में अतिकुपोषित बच्चों की संख्या में 80 बच्चों का इजाफा हुआ है। अन्य ब्लॉक क्षेत्रों में भी लाल श्रेणी से बच्चे बाहर हो रहे हैं।

जिले में 1428 आंगनबाड़ी केंद्र हैं। इनमें कुल 1,64,402 बच्चों का वजन तौला गया हैं, जिसमें सामान्य बच्चों की संख्या 1,49,688 बच्चे जबकि अतिकुपोषित बच्चों की संख्या 3443 है। बाल विकास और पुष्टाहार विभाग की देखरेख में आंगनबाड़ी केंद्रों का संचालन किया जाता है। आंबनबाड़ी कार्यकर्ता और सहायकों के जरिए बच्चों को पुष्टाहार दिया जाता है ताकि बच्चे सेहतमंद रहे, लेकिन महकमे की तमाम कवायद कारगर साबित नहीं हो रही है। जिले के छह ब्लॉक और एक नगर क्षेत्र में अतिकुपोषित बच्चों की संख्या में गुणात्मक की कमी नहीं आ रही है। अतिकुपोषित की संख्या में कमी को लेकर सरकार चिंतित है। ऐसा माना जाता है कि अति कुपोषण से बच्चे शारीरिक और मानसिक तौर पर कमजोर हो जाते हैं। रोग प्रतिरोधक क्षमता कम होने से कई तरह की बीमारियों के चपेट में आ जाते हैं। खास बात यह है कि धनौरा में लाल श्रेणी से 34 बच्चे बाहर हो गए हैं।...

यहां पढें पूरी खबर- - http://v.duta.us/1nWA9gAA

📲 Get Amroha News on Whatsapp 💬