चिता से शव उठाने पहुंची पुलिस से भिड़े ग्रामीण, पिता ने कहा- बेटे ने की खुदकुशी

  |   Meerutnews

बागपत जिले के पाबला गांव में बीकॉम के छात्र की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। परिजनों ने शव का अंतिम संस्कार कर दिया। बाद में पुलिस ने चिता से शव निकालने का प्रयास किया तो ग्रामीणों ने हंगामा शुरू कर दिया। पुलिस को चिता से शव नहीं निकालने दिया। ग्रामीणों और पुलिस के बीच नोकझोंक हुई। छात्र के पिता ने लिखित में दिया कि छात्र ने आत्महत्या की है। इसके बाद पुलिस लौट गई।

पाबला गांव निवासी किसान सतपाल का 21 वर्षीय पुत्र कुलदीप बीकॉम का छात्र था। शुक्रवार को छात्र की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई थी। परिजनों ने पुलिस को सूचना दिए बिना श्मशान घाट में शव का अंतिम संस्कार कर दिया। इसी बीच किसी ने पुलिस को कॉल कर दी। पुलिस श्मशान घाट पहुंची और जलती चिता से शव को निकालने की कोशिश की तो ग्रामीणों ने पुलिस का विरोध किया और हंगामा शुरू कर दिया। ग्रामीण पुलिस कर्मियों के सामने खड़े हो गए। ग्रामीणों और पुलिस की नोकझोंक हुई। ग्रामीणों को शव को चिता से नहीं निकालने दिया।...

फोटो - http://v.duta.us/NgcccgAA

यहां पढें पूरी खबर- - http://v.duta.us/6ha3zwEA

📲 Get Meerut News on Whatsapp 💬