जिले पर विकास की कृपा बरसा गए महाराज

  |   Lakhimpur-Kherinews

गोला गोकर्णनाथ। चंद्रशेखर आजाद कृषि विश्वविद्यालय कानपुर के कृषि महाविद्यालय का लोकार्पण करने आए योगी आदित्यनाथ ने जिले को एक नहीं बल्कि तीन सौगातें दीं। उन्होंने कृषि विज्ञान केंद्र, मेडिकल कॉलेज की घोषणा के साथ ही वन टांगिया गांव वर्मा नगर, महमदपुर और पल्हनापुर गांव को राजस्व गांव बनाने के डीएम को निर्देश दिए।

सीएम योगी आदित्यनाथ के 25 मिनट के भाषण में गांव, किसान और नौजवान प्राथमिकता पर रहे। उन्होंने कहा कि चुनाव के बाद पहली ही कैबिनेट में छोटे किसानों का एक लाख रुपये का ऋण माफ करने का निर्णय लिया गया। विपक्षी पार्टियों पर हमला बोलते हुए उन्होंने कहा कि पिछली सरकारों ने किसानों को कभी भी अपने एजेंडे में शामिल नहीं किया और न ही इनके खुशहाली के लिए योजना बनाई। मगर, केंद्र में भाजपा सरकार बनते ही प्रधानमंत्री मोदी ने किसानों की खुशहाली के लिए प्रयास किया। आज उसी का परिणाम हैं कि किसानों को मृदा परीक्षण कार्ड, किसान सम्मान निधि योजना, कृषि यंत्रों पर अनुदान दिए जाने की शुरूआत हुई। सीएम योगी ने कहा कि किसानों का शोषण किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं होगा। मिल मालिकों से किसानों की एक-एक पाई दिलाई जाएगी। उन्होंने कहा प्रदेश की कमान संभालते ही जब जानकारी की तो मालूम हुआ कि पिछले साल से किसानों का भुगतान बकाया है। मगर, वर्तमान में भुगतान की प्रक्रिया निरंतर जारी है। उन्होंने क्रय केंद्रों पर किसानों को हो रही दिक्कतों पर अधिकारियों को सुधार करने की चेतावनी देते हुए 72 घंटे में आरटीजीएस के माध्यम से भुगतान कराने के निर्देश दिए। कृषिमंत्री सूर्य प्रताप शाही ने कहा कि सूबे के उपजाऊ जनपदों में से खीरी जिला एक है। जिले के दो लाख किसानों के एक-एक लाख रुपये तक के ऋण माफ हुए।...

यहां पढें पूरी खबर- - http://v.duta.us/qZUrYQAA

📲 Get Lakhimpur Kheri News on Whatsapp 💬