टिप्पणी: अफसरों की अदूरदर्शिता से सतना मेडिकल कॉलेज का बंटाधार, पढ़ें अब तक का असली सच

  |   Satnanews

अभिषेक श्रीवास्तव@सतना। किसी अच्छे प्रोजेक्ट का कैसे पलीता लगाते हैं, यह जानना है तो सतना आ जाइए। अफसरों की अदूरदर्शिता और राजनीतिक रसूख ने मेडिकल कॉलेज का ऐसा बंटाधार किया, जिसे अब पैबंद लगाकर भी सही नहीं किया जा सकता। कागजों में जमीन के आवंटन से लेकर प्रस्तावित मेडिकल कॉलेज का नक्शा तक बन गया, लेकिन वास्तुस्थिति जानने के लिए न तो कोई अधिकारी गंभीर हुआ और न ही किसी राजनेता ने रुचि दिखाई।

हालात यह बने कि जिसे जहां मौका मिला, अपने मन मुताबिक बसेरा बनाता गया। एक चौकोर जमीन की जगह मेडिकल कॉलेज के हिस्से आया तो सिर्फ खनन से खोखला की गई भूमि और आड़ा तिरछा नक्शा। अफसरों की कृपा ऐसी बरसी कि जिसने जो मांगा उसे वह भूमि उपलब्ध करा दी। यह भी नहीं सोचा कि जिस मेडिकल कॉलेज की सतना को सबसे अधिक जरूरत है, उसकी आरक्षित जमीन का क्या हाल होगा।...

यहां पढें पूरी खबर- - http://v.duta.us/wo1uggAA

📲 Get Satna News on Whatsapp 💬