डायबिटीज हो जाए तो सावधनियां बरने की है जरूरत : सीएमओ

  |   Baghpatnews

'खानपान सही होगा तो मधुमेह पर रहेगा नियंत्रण'

बागपत। जिलेभर में मधुमेह दिवस मनाया गया। स्वास्थ्य विभाग की ओर से लोगों को रोग से बचाव के लिए जागरूक किया। सामाजिक संगठनों ने भी कैंप लगाकर डायबिटीज की जांच की। उन्हें संतुलित खान-पान के लिए प्रेरित किया।

मधुमेह दिवस पर सीएमओ डॉ. सुषमा चंद्रा ने लोगों को संतुलित खानपान और दिनचर्या में बदलाव के लिए जागरूक किया है। मधुमेह (डायबिटीज) के बारे में आमजन को जानकारी होना बेहद जरूरी है। यदि किसी को डायबिटीज की समस्या हो जाती है तो इसे पूरी तरह से ठीक कर पाना असंभव है लेकिन यदि थोड़ी सावधानी बरती जाए तो इससे होने वाले खतरों से बचाव किया जा सकता है। डायबिटीज कई बार प्राकृतिक या आनुवांशिक कारणों से होती है। डायबिटीज होने के दो कारण होता है, पहला शरीर में इंसुलिन का बनना बंद हो जाए या फिर शरीर में इन्सुलिन का प्रभाव कम हो जाए। दोनों ही परिस्थितियों में शरीर में ग्लूकोज की मात्रा बढ़ जाती है। डायबिटीज के मरीजों को अपने आहार का ध्यान रखना चाहिए। यह रोग उम्र के आखिरी पड़ाव तक बना रहता है, इसलिए इसके खतरों से बचे रहने के लिए जरूरी है सावधानी बरतने की है। अल्कोहल का सेवन या कोल्ड ड्रिंक भी डायबिटीज के मरीजों के लिए हानिकारक है। मधुमेह रोगियों को धूम्रपान से दूर रहने के साथ ही सूखे मेवे, बादाम, मूंगफली, आलू और शक्करकंद जैसी सब्जियां बहुत कम या बिल्कुल नहीं खानी चाहिए। ऐसे व्यक्ति को फलों में केला, चीकू, अंजीर और खजूर से परहेज करना चाहिए। डायबिटीज से ग्रस्त रोगियों के लिए सलाद के साथ ही सब्जियों में मेथी, पालक, करेला, बथुआ, सरसों का साग, सोया का साग, सीताफल, ककड़ी, तोरई, टिंडा, शिमला मिर्च, भिंडी, सेम, शलगम, खीरा, गाजर आदि का सेवन अच्छा रहता है। डॉ. जितेंद्र वर्मा, डॉ. यशवीर सिंह, डॉ. विभाष राजपूत, डॉ. विजय, डॉ. ताहिर ने भी विभिन्न जानकारियां दी।...

यहां पढें पूरी खबर- - http://v.duta.us/d7QWkwAA

📲 Get Baghpat News on Whatsapp 💬