दिल की सर्जरी के लिए अलग से स्थापित होगा आपरेशन थियेटर

  |   Rishikeshnews

एम्स में हृदय शल्य क्रिया विभाग की ओर से दिल के मरीज बच्चों के साथ बाल दिवस मनाया गया। इस अवसर पर एम्स निदेशक डॉ. रवि कांत ने कहा कि संस्थान में बहुत जल्द बच्चों के दिल की सर्जरी के लिए अलग से ऑपरेशन थियेटर की व्यवस्था की जाएगी। इसके लिए संस्थान में सर्जरी की अलग यूनिट स्थापित की जाएगी, जिससे ज्यादा से ज्यादा बच्चे के दिल का ऑपरेशन समय पर किया जा सके।

इस अवसर पर जनजागरुकता अभियान के तहत व्याख्यान प्रस्तुत किए गए। इसमें सहायक आचार्य डॉ. अनीश गुप्ता ने छोटे बच्चों में दिल की सर्जरी के बाद बरती जाने वाली सावधानियों और डॉ. राजा लाहिरी ने वयस्क अवस्था में पता लगने वाली जन्मजात दिल की बीमारियों के निदान संबंधी जानकारियां दी। नवजात शिशु विभागाध्यक्ष डॉ. श्रीपर्णा बासू, आयुष विभागाध्यक्ष प्रो. वर्तिका सक्सेना, क्रिटिकल केयर विभागाध्यक्ष डॉ. अंकित अग्रवाल, प्राचार्य नर्सिंग कॉलेज प्रो. सुरेश कुमार शर्मा, सीटीवीएस विभागाध्यक्ष डॉ. नम्रता गौर कॉर्डियोलॉजी विभाग से डॉ. वरुण, डॉ. रोहित, डॉ. यश श्रीवास्तव, निश्चेतना विभाग से डॉ. अजय मिश्रा, डॉ. अजीत, डॉ. निशीत गोविल, शिशु रोग विभाग के डॉ. नवनीत भट्ट, ट्रांसफ्यूजन मेडिसिन विभाग से डॉ. आशीष जैन, डॉ. सुशांत कुमार मीनिया मौजूद रहे। उधर, बाल दिवस के मौके पर एम्स कॉलेज ऑफ नर्सिंग की ओर से संस्थान परिसर स्थित ब्लूमिंग बड़ क्रच में कार्यक्रम आयोजित किया गया। इसमें एमएससी नर्सिंग प्रथम वर्ष के विद्यार्थियों ने श्रमिकों के बच्चों के साथ बाल दिवस मनाया। नर्सिंग के छात्रों ने नन्हे बच्चों के साथ केक काटा। इस दौरान बच्चों के लिए खेलकूद व चित्रकला प्रतियोगिता का आयोजन किया गया, जिसमें बच्चों ने बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया। प्रतियोगिता में अव्वल बच्चों को पुरस्कार भेंट किए गए। डॉ. रविकांत के सानिध्य में आयोजित कार्यक्रम में एमएस डॉ. ब्रह्मप्रकाश, प्राचार्य कॉलेज ऑफ नर्सिंग प्रो. सुरेश कुमार शर्मा, डॉ. अनुभा अग्रवाल, असिस्टेंड प्रोफेसर मलार कोडी, रूपिंदर देओल, जैवियर वैल्सी आदि मौजूद रहे।

फोटो - http://v.duta.us/QWbM0gAA

यहां पढें पूरी खबर- - http://v.duta.us/cMESqwAA

📲 Get Rishikesh News on Whatsapp 💬