नदी-नालों में घातक रसायन फेंका तो 10 लाख का जुर्माना

  |   Indorenews

उज्जैन/भोपाल. प्रदेश के नदी-नालों में घातक रसायन और एसिड बहाने वालों से सरकार सख्ती से निपटेगी। नदी या अन्य जलस्त्रोत में खतरनाक रसायन डालने या उसके आसपास फेंकने पर अब 10 लाख रुपए का जुर्माना वसूला जाएगा।

जुर्माना राशि तत्काल जमा नहीं करने पर प्रतिदिन 10000 रुपए पेनॉल्टी लगाई जाएगी। इसके लिए राज्य सरकार पर्यावरण कानून में बदलाव करने जा रही है। पर्यावरण विभाग ने परिसंकटमय एवं अन्य अपशिष्ट (प्रबंधन एवं सीमापार संचालन) नियम 2016 में संशोधन का प्रस्ताव तैयार किया है। जल्द ही इसे कैबिनेट में लाया जाएगा।

ऐसे उठाया मामला

नागदा के विधायक दिलीप सिंह गुर्जर ने इस क्षेत्र में चंबल नदी और उसके आस-पास घातक रसायन डालने के मामले में मुख्यमंत्री कमलनाथ को पत्र लिखा था। उनका आरोप है कि गुजरात और राजस्थान से भी लोग आकर यहां एक से दूसरे टैंकर में रसायन डालते हैं। अनुपयोगी रसायन यहां फेककर जाते हैं। इससे भूमि एवं जल प्रदूषण के साथ ही क्षेत्र में बीमारियां भी हो रही हैं। इस मामले में प्रदूषण निवारण मंडल ने भी राज्य शासन को कठोर नियम बनाने की अनुशंसा की थी। प्रदेश की नदियों में फैक्ट्रियों द्वारा रसायन डालने के मामले विधानसभा में भी उठ चुके हैं।...

यहां पढें पूरी खबर- - http://v.duta.us/HVQq-AAA

📲 Get Indore News on Whatsapp 💬